किचन में मिलने इस मसाले के फायदें जान हैरान हो जाएंगे आप

किचन में मिलने इस मसाले के फायदें जान हैरान हो जाएंगे आप

Tips for Weight Loss in Hindi, Home Remedies for Weight Loss, Garam Masala for Weight Loss: किचेन में प्रयोग होने वाले मसाले न केवल खाने का स्वाद बढ़ाते हैं बल्कि कई स्वास्थ्य समस्याओं से लड़ने में भी अच्छा होते हैं. पाचन संबंधी परेशानियों से लेकर लोगों के इम्यूनिटी बढ़ाने तक, मसालों में उपस्थित एंटी-ऑक्सीडेंट्स इन सब में मददगार होते हैं. गरम मसाला सभी के किचन में मिलने वाला एक आम मसाला है जिसमें कई औषधीय गुण हैं. “दी भारतीय एक्सप्रेस” में छपी समाचार के अनुसार, कई लोग गरम मसाला को गर्मी पैदा करने वाला तत्व मानते है व इसे खाने से बचते हैं. हालांकि, लाइफस्टाइल कोच ‘ल्यूक कॉटिन्हो’ ने अपने इंस्टाग्राम पर इस मसाले के स्वास्थ्य संबंधी फायदों का जिक्र करते हुए वीडियो शेयर किया है.

पाचन क्रिया को करता है मजबूत: धनिया के बीज, जीरा, जायफल, इलायची, लौंग, दालचीनी, सौंफ, सरसो, तेजपत्ता व काली मिर्च के मिलावट से बना खुशबूदार गरम मसाला का हर रोज लोग प्रयोग करते हैं. ये मसाला शरीर में भूख को बढ़ाता है व पेट में गैस्ट्रिक जूस को रिलीज करके हमारे पाचन क्रिया को भी बेहतर बनाता है. मसाले में उपस्थित जीरा व लौंग अपच नहीं होने देता साथ ही, लौंग एसिडिटी की समस्या से भी दूर रखता है. गरम मसाला शरीर में कई डायजेस्टिव एंजाइम्स को भी पैदा करता है जिससे खाने को सरलता से पचने में मदद मिलती है.

गरम मसाला से बेहतर होता है मेटाबॉलिज्म: गरम मसाला में उपस्थित सभी इंग्रीडियेंट्स फाइटोन्यूट्रिएंट्स (Phytonutrients) के बेहतर स्रोत माने जाते हैं जो शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में अच्छा साबित होते हैं. कॉटिन्हो के अनुसार, बेहतर मेटाबॉलिज्म आपके ऊर्जा को तो बढ़ाता ही है, साथ ही इससे वजन घटाने में भी मदद मिलती है. व गर्म खाना मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में ज्यादा मददगार होता है. वहीं, कम मेटाबॉलिज्म होने से खाना पचाने में भी परेशानी होती है जबकि हाई मेटाबॉलिज्म से आपके वजन में जल्दी इजाफा नहीं होता है.