कोरोना में स्पेशल डिश नेम कोविड करी और मास्क नान

कोरोना में स्पेशल डिश नेम कोविड करी और मास्क नान

कोरोना संक्रमण के भय से लोगों ने रेस्त्रां में जाना पूरी तरह से बंद कर दिया था. अनलॉक के बाद भी लोग डरे हुए हैं, ऐसे में ग्राहकों की भीड़ नहीं उमड़ रही. ग्राहकों को लुभाने के लिए देशभर के रेस्त्रां मालिक नए-नए ऑफर दे रहे हैं, तो कुछ हटकर आइडिया ला रहे हैं. ऐसे ही राजस्थान के जोधपुर स्थित एक रेस्त्रां में ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कोरोना के नाम पर खास मेन्यू तैयार किया गया है. इसमें लजीज व्यंजन के रूप में कोविड करी तथा मास्क नान को अलग अंदाज में परोसा जा रहा है.

सोशल मीडिया पर मिल रही तारीफ

खास बात यह है कि जब डिश सर्व की जाती है तो ऐसा लगता है जैसे प्लेट में कोरोना के वायरस रखे हुए हों व आपको ही देख रहे हैं. दरअसल, रेस्त्रां के शेफ ने कोविड करी में जो कोफ्ता डाला है, उसका रूप कोरोना वायरस की काल्पनिक तस्वीर जैसा बनाया है. इसके अतिरिक्त नान को मास्क का रूप दिया गया है. रेस्त्रां का ये आइडिया सोशल मीडिया पर हिट हो रहा है. इस रैसिपी के फोटो पर यूजर्स तरह-तरह की रिएक्शन दे रहे हैं. एक ने लिखा है कि यह सिर्फ हिंदुस्तान में ही होने कि सम्भावना है तो दूसरे ने लिखा है- मेरा हिंदुस्तान महान. एक अन्य ने लिखा है यदि मेरी प्लेट में कोरोना परोसा गया तो मैं तो भय ही जाऊंगा.

कोफ्ते का आकार ही मुख्य आकर्षण

जोधपुर के वैदिक मल्टी-कुजिन रेस्त्रां के शेफ ने बताया कि कोविड करी के तौर पर हमने स्पेशल कोफ्ता रखा है. इसे लौकी, खोपरा, मसाले समेत कई अन्य चीजों से बनाया जाता है. चूंकि इसका आकार ही इसका मुख्य आकर्षण है, इसलिए इसे कोरोना वायरस की शक्ल देने में उन्हें बहुत मेहनत लगती है. वहीं, इसके साथ ठीक कॉम्बिनेशन बनाने के लिए नॉर्मल नान को मास्क का आकार दिया गया है, जिससे ये डिश देखने में अलग लगे.

शेफ की क्रिएटीविटी है खास

कोविड करी असल में मलाई कोफ्ता करी का ही नया वर्जन है. यह एक प्योर वेजीटेरियन जैन रेस्त्रां है. इसमें करी 220 रुपए की है, वहीं 40 रुपए का एक नान है. इस रैसिपी में शेफ की क्रिएटीविटी ही मुख्य आकर्षण का केन्द्र है. इनका बिजनेस इस डिश के कारण बहुत ज्यादा हिट हो रहा है.