आंखों के ड्राईनेस से राहत के लिए लगाए कूलिंग जेल आई मास्क

आंखों के ड्राईनेस से राहत के लिए लगाए कूलिंग जेल आई मास्क

हमारी आंखें राहत पाने की प्रयास में रहती है, क्योंकि दिनभर इन्हे काम करना पड़ता है. पूरा दिन फोन और लैपटॉप या फिर कंम्पयूटर पर काम करने वाले लोगों की आंखें काफी अधिक समय तक स्क्रीन देखती हैं. इसके चलते कई बार उन्हें ड्राई आई की भी परेशानी हो जाती है. ऐसे में यदि आप अपनी आंखों का ध्यान नहीं रखती हैं, तो उसमें काले घेरे, थकावट, ड्राईनेस आदि समस्याएं सरलता से झलकने लगती हैं. हालाँकि आप कूल मास्क लगा सकते हैं और अपनी आँखों को राहत दे सकते हैं.

ड्राई आई की परेशानी कम करने के लिए- कई लोगों को ड्राई आई की परेशानी हो जाती है, और ऐसा तब होता है जब आंखों से मॉइश्चर समाप्त हो जाता है. वैसे जब भी आपको इस तरह की परेशानी हो तो सबसे पहले आपको किसी जानकार से परामर्श करना चाहिए. जी हाँ और यदि यदि आप कारागार आई मास्क का प्रयोग करती हैं तो इससे आपको थोड़ी राहत तुरंत ही मिल जाएगी.

 
सिर दर्द ठीक करे- लगातार स्क्रीन पर देखने की वजह से सिर्फ आंखों पर ही असर नहीं होता है बल्कि दिमाग पर भी इसका असर पड़ता है. जी हाँ और इस वजह से कई बार आपके सिर में भबी दर्द होने लगता है और ऐसे में आप रात के समय अच्छे से नहीं सो पाते हैं. कूल आई मास्क का सोते समय इस्तेमाल करने से आपकी आंखें रिलेक्स होती हैं और सिर दर्द भी ठीक होता है.
 
आंखों के नीचे के हिस्से को करे रिलेक्स-
कूल आई मास्क लगाकर आप राहत पा सकती है. यह त्वचा को ठीक होने में सहायता करता है और कूल आई मास्क लगाने से एक रात में ही आपकी आंखों की इरिटेशन और रेडनेस दूर हो जाती है.

 
आंखों का दर्द कम करने के लिए- आंखों में दर्द या सिर दर्द की परेशानी में कूल कारागार आई मास्क मददगार साबित हो सकता है. जी हाँ और आप कुछ देर के लिए इस आई मास्क को आंखों पर लगाएं, इससे आपको दर्द में राहत मिलेगी.

आंखों की सूजन कम करने के लिए- आंखों में यदि सूजन है या फिर फुंसी निकल आई है तो भी आप इस आई मास्क का इस्तेमाल कर सकती हैं. जी हाँ क्योंकि इससे सूजन और दर्द दोनों में ही आपको राहत मिलेगी.

ऐसे करें कूल कारागार आई मास्क का इस्तेमाल- इसके लिए कूल कारागार आई मास्क लगाने से पहले आंखों को पानी से साफ कर लें. इस दौरान आंखों में किसी भी तरह का मेकअप प्रोडक्ट नहीं लगा होना चाहिए.  इस आई मास्क का इस्तेमाल करते समय आंखों को बंद रखें और 5 मिनट से अधिक आप इसे आंखों पर मत लगाएं रखें. ध्यान रहे कभी भी अपनी आंखों पर यूज करने वाले कारागार आई मास्क को किसी दूसरे से शेयर न करें. इसके अतिरिक्त यदि मास्क का कारागार लीक कर रहा है तो समझ जाएं कि अब इसे बदलना है.


रागी का हलवा 2 मिनट में बनकर हो जाता है तैयार

रागी का हलवा 2 मिनट में बनकर हो जाता है तैयार

Raagi For Kids: शिशु को 6 महीने के बाद चिकित्सक सॉलिड फूड खिलाने के लिए कहते हैं हालांकि 6 महीने तक कुछ बच्चों को एक भी दांत नहीं आता ऐसे में आपको बच्चे को सॉलिड खाने के एकदम प्यूरी के जैसा बनाकर देना होता है कई लोग खिचड़ी, दलिया या रोटी को पीसकर बच्चे को खिलाते हैं ऐसे में बहुत कम ऑप्शन होते हैं जो बच्चों को दिए जा सकते हैं बच्चों को आप आटे का हलवा, सूजी का हलवा, बेसन का हलवा या फिर रागी के आटे का हलवा बनाकर दे सकते हैं रागी विटामिन और मिनरल से भरपूर होती है इसे खाने से बच्चे को होने वाली कब्ज की परेशानी भी दूर हो जाती है आप बच्चे को 6 महीने के बाद रागी का हलवा खिला सकते हैं इसे बनाना भी बहुत आसान है केवल 10 मिनट में आप इसे बना सकते हैं आइये जानते हैं रागी का हलवा बनाने की रेसिपी

रागी का हलवा कैसे बनाएं

1- बच्चे के लिए रागी का हलवा बनाने के लिए आप करीब 2 चम्मच रागी लें 
2- अब रागी के आटे को हल्का सा घी डालकर भून लें आपको इसे बेहद नहीं भूनना है
3- अब इसे किसी कटोरी में निकाल लें और ठंडा होने दें
4- अब पैन में पहले करीब आधा कप पानी डालें और करीब एक कप पानी में रागी डालकर उसे मिक्स कर लें
5- अब इसे गैस पर रखे पानी में मिक्स कर दें ध्यान रहे आपको इसे लगातार चलाते रहना है नहीं तो इसमें तुरंत गांठें पड़ जाती हैं
6- अब इसमें गुड़, शक्कर या चीनी जो आपको बच्चे को देनी हो मिक्स कर दें
7- वैसे बच्चों के लिए गुड़ या गुड़ की शक्कर अधिक  फायदेमंद होती है
8- जब हलवा थोड़ा गढ़ा सा होने लगे तो गैस बंद कर दें
9- अब रागी के हलवा में थोड़ा घी डालें और बच्चे को खिलाएं
10- चूंकि हलवा बच्चे के लिए बनाया जा रहा है तो इसे थोड़ा पतला रखें

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की मीडिया पुष्टि नहीं करता है इनको सिर्फ सुझाव के रूप में लें इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले चिकित्सक की राय जरूर लें