विजय माल्‍या ने न्यायालय में हाथ जोड़कर बैंकों से कहा- तुरंत अपने सारे पैसे...

विजय माल्‍या ने न्यायालय में हाथ जोड़कर बैंकों से कहा- तुरंत अपने सारे पैसे...

लंदन: भगोड़े शाराब कारोबारी विजय माल्या (Vijay Malya) ने गुरुवार को ब्रिटिश उच्च न्यायालय में पेशी के दौरान हाथ जोड़कर बोला कि भारतीय बैंक (Indian Banks) तुरंत अपने सारे पैसे वापस ले लें। रॉयल न्यायालय ऑफ जस्टिस के बाहर माल्‍या ने बयान देते हुए बोला कि मूलधन का 100 फीसदी भारतीय बैंक को वापस देने के लिए तैयार हूं। उन्‍होंने बोला कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) व केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) ने उनके साथ अच्‍छा व्‍यवहार नहीं किया।

दरअसल, किंगफिशर एयरलाइंस (Kingfisher Airlines) के पूर्व मालिक 64 वर्षीय विजय माल्‍या पर हिंदुस्तान में धोखाधड़ी व मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के आरोप हैं, जिसकी जाँच प्रवर्तन निदेशालय व CBI कर रही है। कथित रूप से माल्‍या पर 9,000 करोड़ रुपये का बैंक कर्ज़ है।

माल्‍या ने बोला कि PMLA (मनी लॉन्ड्रिंग निरोधक कानून) के तहत उन्‍होंने कोई क्राइम नहीं किया है, लेकिन बैंकों की इस शिकायत पर कि "मैं भुगतान नहीं कर रहा हूं", प्रवर्तन निदेशालय ने मेरी संपत्ति कुर्क कर ली।

माल्‍या ने प्रवर्तन निदेशालय पर इल्‍जाम लगाते हुए बोला कि प्रवर्तन निदेशालय पैसा लेने से मना कर रहा है जबकि वो पूरा पैसा देने के लिए तैयार है। माल्‍या ने बोला कि हमारे पास इन संपत्तियों पर दावा है। इसलिए एक तरफ प्रवर्तन निदेशालय व दूसरी तरफ बैंक एक ही संपत्ति पर लड़ रहे हैं। माल्या ने बोला कि, पिछले चार वर्ष से वे मेरे साथ जो कर रहे हैं, वह पूरी तरह अनुचित है।

वहीं प्रॉसिक्यूशन ने बोला कि माल्या के विरूद्ध 32 हजार पेज के सबूत पेश किए गए हैं। आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि विजय माल्या प्रत्यर्पण वारंट को लेकर जमानत पर है। उसके लिए यह महत्वपूर्ण नहीं है कि वह सुनवाई में भाग ले, लेकिन वह न्यायालय आ रहा है। हिंदुस्तान वापस जाने के बारे में पूछे जाने पर माल्‍या ने बोला कि मुझे वह स्थान चाहिए जहां मेरा परिवार है।