जापान के पीएम Shinzo Abe ने कैबिनेट के साथ दिया इस्तीफा

जापान के पीएम Shinzo Abe ने कैबिनेट के साथ दिया इस्तीफा

टोक्यो: जापान के पीएम शिंजो आबे (Japanese Prime Minister Shinzo Abe) व उनकी कैबिनेट ने त्याग पत्र दे दिया है। उनके इस्तीफे से आगामी सरकार के गठन का रास्ता साफ हो गया। आबे ने स्वास्थ्य कारणों से पीएम पद से त्याग पत्र देने की घोषणा की थी।

सुगा होंगे जापान के नए प्रधानमंत्री
बुधवार यानी आज से जापान की नयी सरकार अपना कामकाज संभाल सकती है। योशिहिदे सुगा (Yoshihide Suga) जापान के नए पीएम बनेंगे, जो लंबे समय तक शिंजो आबे के सहयोगी रहे हैं। अब तक वो चीफ कैबिनेट सेक्रेटरी (Chief Cabinet Secretary) का पद संभाल रहे थे। उन्हें सोमवार को जापान के लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (Liberal Democratic Party) का प्रीमियर चुना गया था। उन्हें बुधवार को पार्टी के संसदीय बोर्ड में पीएम पद के लिए उम्मीदवारी जीतनी होगी, जिसके लिए वो आश्वस्त हैं।

आबे के अधूरे कामों को पूरा करने की जिम्मेदारी
सुगा पर शिंजो आबे के अधूरे कामों को पूरा करने की जिम्मेदारी होगी। खासकर आंतरिक अर्थव्यवस्था व विदेशनीति को लेकर। शिंजो आबे विदेशनीति के मुद्दे में अबतक सबसे प्रभावी पीएम साबित हुए हैं। लेकिन सुगा के सामने अभी कोविड-19 महामारी से निपटने की फौरी चुनौती सबसे बड़ी है। सुगा शिंजो आबे के पहली बार 2006 में पीएम बनने के समय से ही उनके खास सहयोगी रहे हैं। खास बात ये है कि 2012 में आबे की सत्ता में वापसी में सुगा ने बेहद अहम किरदार निभाई थी।

सुगा के सामने मुख्य चुनौतियां क्या हैं?
योशिहिदे सुगा के सामने विदेशनीति बड़ी चुनौती है। चाइना की चुनौती जापान के सामने हमेशा की तरह खड़ी है, तो पूर्वी चीन सागर (East China Sea) में भी उन्हें अहम किरदार निभानी होगी। अगले वर्ष तक के लिए आगे बढ़ाए गए ओलंपिक खेलों( Tokyo Olympics) के पास आयोजन की चुनौती भी उनके सामने है, साथ ही अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बाद अगले या मौजूदा राष्ट्रपति के साथ संबंधों को बेहतर करना भी उनके लिए बड़ी चुनौती होगी।