कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को देनी है मात, तो इन चार बातों का रखें ध्यान

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को देनी है मात, तो इन चार बातों का रखें ध्यान

कोरोना वायरस महामारी ने हर किसी की जिंदगी को प्रभावित किया है। बात अगर भारत की करें, तो यहां अब तक आई दो लहरों से जहां एक तरफ कई लोग इसका शिकार हुए, तो वहीं दूसरी तरफ इस वायरस की वजह से लोगों ने अपनों को भी खोया है। अभी भी भारत में एक्टिव केस काफी हैं, और अब तो कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने हर किसी को डरा रखा है। साउथ अफ्रीका में इसका पहला केस मिला, जिसके बाद ये अमेरिका जैसे देशों में भी फैल गया है। वहीं, भारत को भी इस बदलते स्वरूप से खतरा है। इसलिए जरूरी है कि हर कोई अपना ख्यान रखें और खुद का बचाव करे। ऐसे में हम आपको वायरस के इस नए वैरिएंट से बचने के कुछ तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका पालन आपको करना चाहिए।

वैक्सीनेशन जरूर करवाएं
  • जरूरी है कि हर कोई अपना वैक्सीनेशन करवाएं। भारत में बड़ी ही तेजी से वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे में जरूरत है कि हर कोई कोरोना वैक्सीन लगवाए और अपने घर-परिवार या दोस्तों को इस बारे में बताए। कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण जरूरी है।
ऑमिक्रोन से दूरी, मास्क है जरूरी
  • कोरोना की पहली लहर के साथ ही विशेषज्ञों और डॉक्टर्स ने ये साफ कर दिया था कि मास्क बेहद जरूरी है। घर से बाहर जाते समय, दफ्तर में, बाजार में, किसी से मिलते समय आदि। मतलब हमें खुद भी मास्क पहनना है और बच्चों को भी पहनाना है। हो सके तो एक सर्जिकल और दूसरा कपड़े वाला मास्क पहनकर आप डबल मास्किंग भी कर सकते हैं।
सामाजिक दूरी बनाकर रखें
  • कोरोना के इस नए वैरिएंट से बचना है, तो हर किसी को पहले की तरह ही एक-दूसरे से सामाजिक दूरी बनाकर रखनी पड़ेगी। बेवजह घर से बाहर जाने से बचें, भीड़ वाली जगहों से खुद को दूर रखें, दुकान पर भीड़ करने से बचें, दफ्तर जा रहे हैं तो अलग रहें आदि।
हैंड हाइजीन का ख्याल रखें
  • हमें अपने हाथों को साबुन और सैनिटाइजर से साफ करते रहना चाहिए। पानी और साबुन से 20 मिनट तक अपने हाथों को धोएं, घर में जाते समय सैनिटाइजर करें, घर जाकर नहाना भी एक बेहतर विकल्प है आदि।

पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

आजकल खट्टी इमली हर किचन में मिलती है। किचन में इमली का अपना विशेष महत्व है। इमली का स्वाद बहुत ही खट्टा मीठा होता है जो हमारे खाने के स्वाद को दोगुना कर देता है। आज तक आपने इमली के इस्तेमाल से कई प्रकार के व्यंजन बनाए होंगे। पर क्या आपको पता है कि इमली हमारी सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है।

इमली खाने के फायदे:

अगर आप रोज़ाना इमली का रस पीते हैं तो इससे कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव होता है। इमली में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो कैंसर और किडनी फेलियर की समस्या से बचाते हैं।

इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फाइबर मौजूद होते हैं जो सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में सहायक होते हैं।

अगर आपको पेट से जुड़ी समस्याएं रहती हैं तो आधा कप इमली के पेस्ट में शहद और नींबू का रस मिलाएं। अब इसमें थोड़ा सा गर्म पानी डालकर रात भर के लिए छोड़ दें। सुबह उठने पर इसे पी ले।

इमली का सेवन करने से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स मौजूद होते हैं जो शुगर को कंट्रोल में रखने का काम करते हैं। 

इमली में भरपूर मात्रा में हाइड्रोऑक्साइड एसिड मौजूद होता है जो फैट को कम करने वाले एंजाइम को बढ़ाती है। रोजाना इमली का सेवन करने से वजन आसानी से कम हो जाता है।