जानिए क्यों होती है अपच की समस्या

जानिए क्यों होती है अपच की समस्या

कई बार खाना खाने के बाद पेट में एक अजीब सी जलन या दर्द का अहसास होता है। आमतौर पर यह पेट के ऊपरी हिस्से पर होता है, जिसे आम भाषा में अपच भी कहा जाता है। यह एक ऐसी समस्या है, जिस पर लोग ज्यादा ध्यान नहीं देते, जिसके कारण व्यक्ति को यह समस्या बार−बार होती है। ऐसे में यह जरूरी है कि आप अपच के कारणों से लेकर उसके लक्षणों व उपचार पर पर्याप्त ध्यान दें। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको अपच के बारे में विस्तारपूर्वक बता रहे हैं−

पहचाने लक्षण

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि पेट में जलन या दर्द होने पर यह समझा जाता है कि व्यक्ति को अपच की समस्या है, लेकिन इसके अलावा भी ऐसे कई लक्षण है, जो अपच की समस्या होने पर दिखाई देते हैं। इनमें ब्लोटिंग से लेकर गैस, जी मचलाना, मतली या उल्टी का अहसास, मुंह में अजीब सा स्वाद, पेट दर्द, पेट या पेट के उपरी हिस्से में जलन आदि होता है। इसके अलावा भोजन के दौरान शुरूआत में फुलनेस का अहसास होना भी इसका ही एक लक्षण है। 

जानें कारण

अपच के लक्षणों को जानने के बाद इसके कारणों को भी जानना उतना ही जरूरी है। हेल्थ एक्सपर्ट की मानें तो सिर्फ बहुत अधिक हैवी या हाई फैट फूड ही इसके पीछे एकमात्र वजह नहीं होती। बल्कि बहुत अधिक या बहुत तेजी से भोजन करने पर भी यह समस्या हो सकती है। इसके अलावा बहुत अधिक शराब पीना, धूम्रपान या अत्यधिक तनाव और थकान के कारण भी व्यक्ति को अपच की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। कई महिलाओं को गर्भावस्था में मध्य और आखिरी तिमाही में अपच की समस्या होती है। हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि लाइफस्टाइल से जुड़ी समस्याओं के अलावा कुछ बीमारियां भी अपच की परेशानी को जन्म देती है। इसमें अल्सर, आमाशय का कैंसर, पेंट में इंफेक्शन, इरिटेबल बाउल सिंडोम, अग्नाशय में सूजन व थायराइड की बीमारी में भी व्यक्ति को बार−बार अपच होता है।

उपचार

डॉक्टर कहते हैं कि अपच के कई कारण हो सकते हैं, इसलिए यह जरूरी है कि अगर आपको बार−बार यह समस्या होती है तो आप एक बार डॉक्टर से सलाह अवश्य लें। वह जरूरी टेस्ट के जरिए आपकी वास्तविक परेशानी का समझने का प्रयास करेंगे। हालांकि, कई मामलों में आपको कुछ भी उपचार की जरूरत नहीं होती, क्योंकि कुछ घंटों के बाद यह खुद−ब−खुद ठीक हो जाता है।

रखें इसका ध्यान

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि कुछ बातों का ध्यान रखकर अपच की समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है। सबसे पहले तो खाना चबाते समय मुंह को खुला ना रखें या फिर चबाते समय बात करने से बचें। इसके अलावा बहुत तेजी से भी ना खाएं। ऐसा करने से आप अधिक हवा को निगलते हैं, जिसके कारण अपच की समस्या हो सकती है। इसके अलावा भोजन के दौरान पेय पदार्थ ना पीएं। देर रात खाने से बचें। मसालेदार भोजन से दूरी बनाएं। अगर धूम्रपान करते हैं तो छोड़ दें। इसके अलावा अत्यधिक शराब का सेवन भी ना करें।