दौड़भाग भरी जिंदगी में डिप्रेशन की समस्या आम, इन तरीकाें से दूर करें तनाव

दौड़भाग भरी जिंदगी में डिप्रेशन की समस्या आम, इन तरीकाें से दूर करें तनाव

आज की दौड़भाग भरी जिंदगी में डिप्रेशन की समस्या आम हो चली है. लेकिन अवसाद में लोगों द्वारा अत्महत्या की प्रवृत्ति देखे जाने के कारण इसे सबसे खतरनाक मानसिक बीमारियों में से एक माना जाता है. दुनिया स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार, हिंदुस्तान में लगभग 200 मिलियन लोग अवसाद से पीड़ित हैं. यानी पांच लोगों में से एक. देश में हर वर्ष अवसाद के कारण आत्महत्या करने वालों लोगोें की संख्या में वृद्धि हो रही है. लेकिन आप चाहे तो अवसाद को मात दे सकते हैं. मेडिकल न्यूज टुडे में प्रकाशित, मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल, हार्वर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के एक अध्ययन में बोला गया है कि हर रोज 35 मिनट व्यायाम करना अवसाद व मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को कम करने में मदद करता है, भले ही आपका अवसाद परिवार के आनुवंशिक इतिहास से जुड़ा हुआ है.

शाेधकर्ताआें ने बोला कि सच्चाई यह है कि, नियमित रूप से व्यायाम करना या एक्टिव रहना मस्तिष्क को एंडोर्फिन को रिलीज करने के लिए प्रेरित करता है. एंडोर्फिन को मस्तिष्क में फील-गुड केमिकल्स के रूप में जाता है. जैसा कि हम जानते हैं, अवसाद किसी आदमी के मोटिवेशन को प्रभावित कर सकता है. इसलिए, अवसाद का अनुभव करने वाले किसी आदमी के लिए व्यायाम करना कठिन होने कि सम्भावना है. विशेषज्ञों का सुझाव है कि एक हफ्ते के लिए हर दिन केवल पांच मिनट के लिए सक्रिय होकर धीमी आरंभ करें. ये पाँच मिनट जल्द ही 10 मिनट, फिर 15 मिनट तक बढ़ सकती है.

अध्ययन के प्रमुख लेखक, कर्मेल चोई ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर, पार्टनर बायोबैंक के 8,000 प्रतिभागियों से परामर्श किया, जो अवसाद से ग्रस्त थे. शोधकर्ताओं ने पाया कि दो सालों के दौरान व्यायाम करने के बाद उनकी उदास होने की आसार में लगभग 17 फीसदी की कमी हो गई. शाेध यह भी सामने आया कि जो लोग शारीरिक रूप से अधिक सक्रिय होते हैं, उन्हें अवसाद का अनुभव होने की आसार कम होती है.

इन तरीकाें से दूर करें तनाव ( Tips To Reduce Depression )
- हाई इंटेंसिटी वर्कआउट.
- एरोबिक व्यायाम.
- लो इंटेंसिटी एक्टिविटी.
- याेगा व स्ट्रेचिंग.
- अन्य शारीरिक गतिविधियाँ, जैसे— खेल या तैराकी.

यदि आप अवसाद व उदासी जैसे लक्षणों का अनुभव करते हैं तो अपनी दिनचर्या में 25-35 मिनट का व्यायाम शामिल करें. कुछ ही दिनों में आप खुशनुमा महसूस करेंगे.