गहरी सांस के हैं कई बड़े फायदे

गहरी सांस के हैं कई बड़े फायदे

प्रकृति ने सेल्यूलर सिस्टम की एनर्जी लेवल बढ़ाने और लिम्फ सिस्टम को क्लीन करने की एक अछूत व्यवस्था हमारे भीतर प्रदान की हुई है व वह है डीप ब्रीदिंग यानि गहरी सांस लेना. इस एक्सरसाइज से लिम्फ सिस्टम को क्लीन करके कोई भी आदमी अपने भीतर नेचुरल इम्यूनिटी को पैदा कर सकता है. योग गुरु गुलशन कुमार ने बोला कि डीप ब्रीदिंग प्राणायाम का एक भाग है जिसके तहत जो लोग कोरोना एन्गजाईिट के कारण भयभीत होकर अपनी इम्यूनिटी को कम कर चुके है वह डीप ब्रीदिंग करके अपने भीतर अपने लिम्फ सिस्टम की सफाई करके नेचुरल इम्यूनिटी को तैयार कर सकते है.

उन्होंने बोला कि जब हमारा ह्रदय खून को पम्प करता है उसमें दो चीजें पाई जाती हैं. एक ऑक्सीजन और दूसरा न्यूट्रिएंट्स यानि खाद्य तत्व जिसे खाकर हमारे सेल्स मजबूत रहते हैं. दूसरा ऑक्सीजन जिससे सेल्स जीवित रहते है. यह खून ऑक्सीजन व न्यूट्रिएंट्स को लेकर जाता है जहां लिम्फ है । यहां आकर ऑक्सीजन और न्यूट्रिएंट्स को डिफ्यूज्ड हो जाते है.

 इस वातावरण में आकर सेल्स न्यूट्रिएंट्स और ऑक्सीजन से सम्बन्ध बनाता है जो उसके लिए बनी है. सेल ऑक्सीजन भी लेता है और न्यूट्रिएंट्स भी लेता है. न्यूट्रिएंट्स से सेल स्ट्रॉग रहता है व ऑक्सीजन से सेल जीवित रहता है.

इसे ऐसे समझा जा सकता है जिस प्रकार पेट भरने के लिए हम भोजन करते है फिर भोजन के अवशेष को अगली प्रातः काल एक्स्क्रेट कर देते है इसी प्रकार सेल ऑक्सीजन और न्यूट्रिएंट्स ग्रहण करता है व टॉक्सिन को बाहर निकाल देता है.

उसमे से कुछ टॉक्सिन लिम्फ मे रूके रहते है जिसकी क्लीन होना सेल्यूलर सिस्टम की एनर्जी के लिए आवश्यक होता है. इस लिम्फ को जितना हम क्लीन रख सकेंगे उतना ही हम अपनी प्राकृतिक इम्यूनिटी को मजबूत करेंगे । इससे हमारी सेल्यूलर एनर्जी बढ़ेगी । डीप ब्रीदिंग योग की ऐसी टेक्नीक है जो हमारे सेल्यूलर सिस्टम को मजबूती देता है.