क्या यूरिन से भी कोरोना संक्रमण फैल सकता है, जाने एक्सपर्ट का जवाब

क्या यूरिन से भी कोरोना संक्रमण फैल सकता है, जाने एक्सपर्ट का जवाब

बारिश में संक्रमण का कितना खतरा है, क्या लॉकडाउन के ढील देने पर कोरोना के मुद्दे बढ़ सकते हैं, कोरोना के लक्षण बदल रहे हैं इसे कैसे समझेंऐसे कई सवालों के जवाब आरएमएल हॉस्पिटल, नयी दिल्ली के विशेषज्ञ डाक्टर एके वार्ष्णेय ने आकाशवाणी को दिए. जानिए कोरोना से जुड़े सवाल व एक्सपर्ट के जवाब


#1) कोमोरबिडिटी क्या है व इससे वायरस का संक्रमण कैसे बढ़ रहा है?
कोमोरबिडिटी से मतलब है कि जिन्हें पहले से कोई गंभीर बीमारी है, जैसे डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, अस्थमा, एचआईवी, कैंसर व फेफड़े से जुड़ी समस्या. ऐसे लोगों में इम्युनिटी कम हो जाती है. इनमें जब संक्रमण होता है तो वायरस गंभीर रूप से अटैक करता है. वायरस उनके फेफड़ों तक पहुंच जाता है व उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगती है. इसमें ज्यादातर बुजुर्ग व प्रेग्नेंट महिलाएं आती हैं. इन्हें सबसे ज्यादा अपना ध्यान रखने की आवश्यकता है.

#2) सैनेटाइजर व साबुन में क्या फर्क पड़ता है?

वायरस के ऊपर की परत चिकनाई वाली होती है क्योंकि उसमें वसा होता है. जब हम साबुन से 20 सेकंड तक हाथ धोते हैं तो वायरस साबुन के जरिए बाहर निकल जाता है. लेकिन अगर आप किसी स्थान हैं जहां साबुन-पानी उपलब्ध नहीं है तो सैनेटाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. इसलिए अगर बाहर जाते हैं व किसी चीज को या सब्जी-फल को हाथ से छूते हैं या किसी से कोई सामान लेते हैं तो आंख-नाक-मुंह पर हाथ लगाने से पहले साबुन-पानी या सैनेटाइजर से हाथ साफ करें.
#3) क्या बारिश में वायरस का संक्रमण बढ़ सकता है?
बारिश में सर्दी-खांसी होना सामान्य बात है, लेकिन कई ऐसे वायरस हैं जिनसे सर्दी, खांसी व जुकाम होता है. इसमें राइनोवायरस, इंफ्लूएंजा व ह्यूमन कोरोना भी शामिल हैं. कई ऐसे वायरस होते हैं जो गले तक पहुंच जाते हैं व खांसी-जुकाम हो जाता है. कोरोनावायरस के मुद्दे में भी लक्षण दूसरे वायरस जैसे ही दिखते हैं. ऐेसे में सभी को बचाव करना महत्वपूर्ण है. कोई भी लक्षण दिखने पर सीधे चिकित्सक से संपर्क करें.
#4) क्या कोरोना के कुछ नए लक्षण भी आए हैं, विदेशों में कई लोगों में लाल रंग के निशान दिख रहे हैं?
कई बार शरीर पर लाल रंग के निशान डायरिया, मिर्गी के दौरे या ब्रेन से जुड़ी समस्या के हो सकते हैं. लेकिन ऐसे मुद्दे कम है. 90-95 प्रतिशत वायरस से संक्रमित लोगों को बुखार होता ही है. अगर ऐसे लक्षण आ रहे हैं तो उसके कई कारण हो सकते हैं.

#5) क्या यूरिन से भी वायरस का संक्रमण होता है

नहीं, ऐसे कोई प्रमाण अब तक नहीं मिले हैं कि किसी की यूरिन से वायरस का संक्रमण होता है. न ही किसी के ब्लड व खाने की वस्तु से संक्रमण फैलता है. अभी तक केवल संक्रमित के संपर्क में आने से ही संक्रमण फैलने के मुद्दे सामने आए हैं. लेकिन किसी को पता नहीं कि किसके अंदर वायरस का संक्रमण है, इसलिए सावधानी रखें.

#6)लॉकडाउन में ढील से क्या नए रिस्क बढ़ सकते हैं, ऐसे में क्या सावधानी बरतें?

सरकार अपनी ओर से पूरी प्रयास कर रही है लेकिन अब देश के नागरिक का कार्य है कि वे कैसे खुद को वायरस से दूर रखें व दूसरों को बचाएं. सरकार ने जो नियम बनाए हैं कि ऑटो में एक सवारी या कैब में दो सवारी ही बैठ सकती हैं. इन्हें निभाना हमारी जिम्मेदारी है. अगर कोई मास्क नहीं लगाता तो दूसरे लोग उसे पहनने के लिए कहें. दुकानदार भी ग्राहकों को बताएं कि इसे पहनना महत्वपूर्ण है. कार्यालय जा रहे हैं तो ध्यान रखें कि हाथ नहीं मिलाना है.
#7) क्यासब्जी को सैनेटाइजर से धो सकते हैं?
नहीं, फल, सब्जी को सैनेटाइजर से बिल्कुल न धोएं. इसे केवल नल के बहते पानी से धोएं या हल्का गर्म पानी उस पर डालें. सैनेटाइजर का इस्तेमाल केवल हाथ धोने के लिए करें.