अस्थमा और हायपरटेंशन के मरीज रोजाना करें यह योगासन, जानें

अस्थमा और हायपरटेंशन के मरीज रोजाना करें यह योगासन, जानें

अस्थमा श्वसन संबंधी एक बीमारी है। इस बीमारी में सांस लेने में बहुत कठिनाई होती है। जबकि, सांसे तेज चलने लगती हैं, खांसी होती है, सीने में जकड़न रहती है और बैचनी होने लगती है। इसे बोलचाल की भाषा में दमा भी कहते हैं। इसके कई कारण हैं, लेकिन प्रमुख एलर्जी है। इसके लिए अस्थमा के मरीजों को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए। साथ ही अस्थमा के मरीज योग का सहारा ले सकते हैं। योग के कई आसान हैं जो विभिन्न रोगों में लाभकारी हैं। इनमें एक वीरासन है। विशेषज्ञों की मानें तो वीरासन अस्थमा और उच्च रक्तचाप में बेहद फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं कि वीरासन कैसे किया जाता है और इसके फायदे क्या हैं-

वीरासन क्या है

वीरासन और वज्रासन में कोई विशेष अंतर नहीं है। हालांकि, वीरासन कई मुद्राओं में और वज्रासन केवल एक मुद्रा में किया जाता है। वीर का अर्थ बहादुर होता है। इस योग को करने से व्यक्ति बलिष्ठ बनता है। वीरासन करने में बेहद आरामदेह है। इसे हर कोई कर सकता है। वहीं, अस्थमा और उच्च रक्तचाप के मरीजों के लिए यह किसी वरदान से कम नहीं है।


वीरासन कैसे करें

इसके लिए समतल भूमि पर दरी बिछाकर वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएं। इसके बाद अपने पैरों को अलग कर हिप्स को जमीन पर टिका दें। अब पीठ के बल लेट जाएं और इस मुद्रा में तकरीबन 30 सेकेंड तक जरूर रहें। फिर पहली अवस्था में आ जाएं। इसे रोजाना कम से कम 10 बार जरूर करें।

वीरासन के फायदे

-हाथों और पैरों में खिंचाव पैदा होता है।


-रक्त संचार सुचारू ढंग से होने लगता है।

-एकाग्रता बढ़ती है।

-मन स्थिर और तनाव दूर होता है।

-उच्च रक्त चाप नियंत्रित रहता है।

-अस्थमा में आराम मिलता है।


सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की समस्या से तो लगभग हर दूसरा व्यक्ति प्रभावित होता ही है। सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की समस्या गर्दन के हिस्से में जोड़ो को प्रभावित करती है। इस समस्या के कारण गर्दन में दर्द होने लगता है। सर्वाइकल की समस्या उम्र से सम्बंधित होती है जो उम्र के साथ-साथ सर्वाइकल स्पाइन की हड्डिया और कार्टिलेज कमजोर होने लगते है।

अगर आप भी सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द से बहुत परेशान है तो आप उस दर्द वाले हिस्से पर ठंडी या गर्म सिकाई कर सकते है।

गाय का घी काफी अच्छा और फायदेमंद माना जाता है। इसमें जोड़ो के दर्द को लुब्रीकेंट्स करने के गुण होते है और इसलिए ही ये सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द में भी फायदेमंद साबित हो सकता है।

पद्मासन, ताडासन, पवनमुक्तासन, यष्टिकासन जैसे कुछ और भी कुछ योग है जो सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर भगा देते है.

अगर आप जड़ी- बूटियों के प्रयोग से सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करना चाहते है तो आपको हल्दी, अदरक, मेथी, अश्वगंधा और गुग्गुल जैसी जड़ी-बूटियों को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा।

आप गर्दन की एक्सेर्साइज़ करके भी सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की समस्या को दूर कर सकते है। इसके साथ ही जब भी आप कही बैठे तो हमेशा ही आरामदायक मुद्रा में बैठे इससे सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की समस्या खत्म हो सकती है।


Suzuki Hayabusa का नया अवतार इस दिनांक को होगा लॉन्च, मूल्य       Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी       Ola Electric हिंदुस्तान में लगाएगा दुनिया का सबसे बड़ा चार्जिंग सेटअप       दमदार ड्राइविंग रेंज के साथ महज 18 मिनट में होगी चार्ज, Ola इलेक्ट्रिक स्कूटर जुलाई मे होगी लॉन्च       लीक हुई Mi 11X Pro और Mi 11X की कीमत       जानिए कैसा है 48MP कैमरे वाला यह स्मार्टफोन       WhatsApp यूजर्स के लिए चेतावनी! भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां       Realme के 6000mAh बैटरी वाले फोन की मूल्य में कटौती       Apple ने हिंदुस्तान में लॉन्च किया iPad Pro, बढ़िया डिस्प्ले और 5G कनेक्टिविटी के साथ मिलेंगे कई खास फीचर्स       कार या बाइक चलाते समय नहीं कटवाना चाहते हैं Challan तो इन ऐप का करें इस्तेमाल       जोड़ों के दर्द या अर्थराइटिस की समस्या से आराम दिलाती है ब्रोकली       सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय       अगर कमजोर हो गयी है आपकी याददाश्त तो जरूर करें ये उपाय       गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है इन चीजों का सेवन       आखिर प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है सूखा नारियल खाने की सलाह       क्या आप भी प्लान कर रहे हैं बच्चा तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें       शायद आप नहीं जानते होंगे नाश्ते में अंडे खाने के ये जबरदस्त फायदे       दांतों को कमजोर बना सकती हैं ये चीजें, भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन       गर्मियों में तरबूज का ज्यादा सेवन भी सेहत को पहुंचा सकता है नुकशान       गले के रोग को हल्के में न लें, लापरवाही बन सकती है इस बड़ी बीमारी की वजह