दिल्ली विधानसभा की समिति का कंगना रणौत को समन, किसानों के प्रदर्शन को बताया था खालिस्तानी आंदोलन

दिल्ली विधानसभा की समिति का कंगना रणौत को समन, किसानों के प्रदर्शन को बताया था खालिस्तानी आंदोलन

अभिनेत्री कंगना रणौत को दिल्ली विधानसभा की शांति और सद्भाव समिति द्वारा समन किया गया है। कंगना को 6 दिसंबर को दोपहर 12:00 बजे समिति के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। मोदी सरकार के कृषि कानूनों को वापस लेने के एलान के बाद कंगना ने किसान आंदोलन की तुलना खालिस्तानी आंदोलन से की थी। जिसके बाद देश के अलग अलग इलाकों में उनके खिलाफ कई एफआईआर दर्ज की गई हैं।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने इंस्टाग्राम पर सिख समुदाय के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर कंगना के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। गौरतलब है कि शांति और सद्भाव समिति के अध्यक्ष आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा हैं।

कंगना रणौत ने किसान मुद्दे को लेकर अपने फेसबुक अकाउंट से एक विवादित पोस्ट में लिखा था 'खालिस्तानी आतंकवादी आज भले ही सरकार का हाथ मरोड़ रहे हो, लेकिन उस महिला (इंदिरा गांधी) को नहीं भूलना चाहिए, जिसने अपनी जूती के नीचे इन्हें कुचल दिया था, लेकिन अपनी जान की कीमत पर उन्हें मच्छरों की तरह कुचल दिया, मगर देश के टुकड़े नहीं होने दिए, उनकी मृत्यु के दशक के बाद भी, आज भी उसके नाम से कांपते हैं ये, इनको वैसा ही गुरु चाहिए।

ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने के बाद कंगना इंस्टाग्राम पर सक्रिय हैं और हर चीज पर अपने विचार साझा करती रहती हैं। तीनों कृषि कानून वापस लेने के सरकार के फैसले से कंगना निराश हैं। कंगना ने इंस्टाग्राम पर स्टोरी साझा करते हुए लिखा था, 'दुखद, शर्मनाक और सरासर गलत... अगर संसद में बैठी सरकार के बजाय गलियों में बैठे लोग कानून बनाना शुरू कर दें तो यह भी एक जिहादी देश है... उन सभी को बधाई जो ऐसा चाहते हैं।'


Film on Hold : क्या बजट ने लगाया नुसरत भरूचा की फिल्म ‘जनहित में जारी पर ब्रेक?

Film on Hold : क्या बजट ने लगाया नुसरत भरूचा की फिल्म ‘जनहित में जारी पर ब्रेक?

एक्ट्रेस नुसरत भरुचा इन दिनों अपनी हालिया रिलीज हुई फिल्म “छोरी” को लेकर सुर्खियों में हैं. इस फिल्म में नुसरत के काम को समीक्षकों से भी खूब सराहना हासिल हुई. नुसरत ने सिर्फ अपने दम पर पूरी फिल्म को सफल बनाया है.जहां इस फिल्म को इतना प्यार मिल रहा है वहीं उनकी आगमी फिल्म ‘जनहित में जारी’ के होल्ड पर जाने की खबर ने सनसनी मचा रखी है जिस पर अब फिल्म के निर्देशक राज शांडियल ने बड़ा बयान दिया है

फिल्म नहीं गई ठंडे बस्ते में

नुसरत भरूचा की अपकमिंग फिल्म जनहित में जारी की शूटिंग फिल्म की शूटिंग जबसे शुरू हुई है तबसे किसी न किसी वजह से फिल्म खबरों में बनी हुई है. राज शांडिल्य के निर्देशन में बनने वाली जनहित में जारी की शूटिंग जैसे ही शुरू हुई इसके कुछ क्रू मेंबर्स को कोरोना हो गया था जिसके चलते फ़िल्म की शूटिंग रोकनी पड़ी अब फिल्म को लेकर खबर आ रही थी कि बजट इश्यू के चलते इस फिल्म पर ताला लग गया है लेकिन तमाम अफवाहों पर ब्रेक लगाते हुए फिल्म के निर्देशक राज ने बॉलीवुड हंगामा को दिए एक इंटरव्यू में चुप्पी तोडी है उन्होंने बताया है

‘नहीं, ऐसा बिल्कुल ऐसा नहीं है हमारी फ़िल्म का दूसरा शेड्यूल 28 तारीख को शुरू भी हो चुका है . हालांकि फिल्म के लिए थोड़ा ब्रेक जरूर लिया गया था जिसकी वजह थी क्रू मेंबर्स का दिवाली सेलिब्रेट करना. वहीं नुसरत ने इसी बीच राम सेतु की शूटिंग शुरू की थी.फिल्म के ब्रेक में आर्थिक तंगी जैसी कोई समस्या नहीं है. न ही फिल्म होल्ड पर गई है.

2022 में होगी रिलीज ‘जनहित में जारी’

साथी ही राज शांडियाल ने इस फिल्म की रिलीज पर भी खुलासा करते हुए बताया कि फिल्म को दिसंबर 2021 तक रैपअप करने का प्लान है. वहीं 2022 में इस फिल्म को रिलीज किया जाएगा.हालांकि किस महीने या डेट को ये फिल्म रिलीज होगी इस पर कोई जानकारी स्पष्ट तौर पर सामने आई है.

बहरहाल निर्देशक का ये बयान कहीं न कहीं नुसरत के फैंस के दिल को राहत पहुंचाने वाला है क्योंकि जो इस फिल्म का इंतजार कर रहे थे वो जाहिर तौर पर इसके होल्ड पर जाने की खबर से निराश हुए थे. नुसरत की आने वाली फिल्मों की बात करें तो एक्ट्रेस की बकेट लिस्ट में जनहित में जारी के अलावा राम सेतु और हुडंग जैसी फिल्में शामिल हैं.