गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के लिए समन भेजेगा ईडी

गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के लिए समन भेजेगा ईडी

रिया चक्रवर्ती के विरूद्ध मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज करने के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) उन्हें समन भेजने की तैयारी में है. रिपोर्ट्स की मानें तो यह समन उन्हें अगले हफ्ते भेजा जाएगा. रिया से संदिग्ध लेनदेन के बारे में पूछताछ की जाएगी. इसके साथ ही उनके बैंक खातों की जाँच भी की जाएगी.

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय यह पता लगाएगा कि कोई बड़ा प्रोजेक्ट हाथ में न होने के बावजूद रिया की कमाई कहां से हो रही थी. उनके खर्चे कौन उठा रहा था? निदेशालय की ओर से यह स्पष्ट किया गया है कि यह केस मनी लॉन्ड्रिंग का है व वे सिर्फ अवैध ढंग से पैसों के लेनदेन के एंगल से ही जाँच करेंगे. इसका सुशांत के सुसाइड या हत्या अपराध से कोई लेना नहीं है.

रिपोर्ट्स के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय सुशांत के बैंक खातों के गलत तरह से संचालन व उनके पैसों के गलत ढंग से प्रयोग के आरोपों की जाँच करेगा. साथ ही इस बात की तफ्तीश की जाएगी कि क्या कोई उनकी कमाई व उनकी कंपनियों का प्रयोग मनी लॉन्ड्रिंग व अवैध सम्पति बनाने के लिए कर रहा था?

31 जुलाई को दर्ज हुआ मामला

प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले दिनों पटना पुलिस से रिया व उनकी फैमिली के विरूद्ध दर्ज हुई एफआईआर की कॉपी मांगी थी. इसकी स्टडी करने के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत चार्ज लगाने का निर्णय लिया. इसके बाद 31 जुलाई को निदेशालय ने रिया, उनके फैमिली मेंबर्स व अन्य 6 लोगों के विरूद्ध केस दर्ज कर मुद्दे की जाँच प्रारम्भ कर दी है.

स्टार्ट अप व मनी ट्रांसफर बने जाँच की वजह

सुशांत के पिता का आरोप था कि सुशांत के बैंक एकाउंट से 15 करोड़ रुपए तीन खातों में ट्रांसफर किए गए. आरोप है कि यह एकाउंट ्स रिया, उसके भाई शोविक व उसकी मां के हैं. जाँच में इस तरह की बात भी सामने आई है कि सुशांत व रिया ने एक साथ तीन स्टार्ट अप में इन्वेस्टमेंट किया था.

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पीएम को लिखा था पत्र

इससे पहले बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेटर लिखकर सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के मुद्दे में सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय व अन्य केंद्रीय एजेंसियों से विस्तृत जाँच कराने की मांग की थी. महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी सुशांत केस को मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से देखने की अपील की थी. उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा था, "प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को अपनी जाँच मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से प्रारम्भ कर देनी चाहिए."

रिया चक्रवर्ती का पहला रिएक्शन सामने आया

शुकवार को रिया चक्रवर्ती ने अपने विरूद्ध पटना में दर्ज केस व जाँच जो लेकर पहला रिएक्शन दिया. उन्होंने सोशल मीडिया पर 20 सेकंड का वीडियो शेयर किया, जिसमें वे कह रही रहीं, "मुझे भगवान व न्याय व्यवस्था पर पूरा विश्वास है. मुझे यकीन है कि मुझे न्याय मिलेगा. यहां तक कि लोग इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में मेरे विरूद्ध बहुत कुछ कह रहे हैं, फिर भी अपने एडवोकेट के सुझाव के अनुसार मैं चुप रहूंगी. क्योंकि मुद्दा न्यायालय में है. सत्यमेव जयते. जीत सत्य की होगी."

25 जुलाई को पटना में केस दर्ज हुआ

सुशांत के पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को पटना में रिया चक्रवर्ती के विरूद्ध उनके बेटे को खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज करवाया. रिया, उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, मां संध्या चक्रवर्ती, भाई शोविक चक्रवर्ती व दो मैनेजर सौमिल चक्रवर्ती व श्रुति मोदी के विरूद्ध गंभीर आरोप लगाए गए हैं. उनके विरूद्ध धाराओं 341 व 342 (गलत ढंग से रोकना या बंधक बनाना), 380 (चोरी), 406 (भरोसा तोड़ना), 420 (धोखाधड़ी) व 306 (खुदकुशी के लिए उकसाना) के तहत मुद्दा दर्ज कराया गया है. सुशांत के परिवार ने रिया पर एक्टर के एकाउंट से 15 करोड़ रुपए निकालने का आरोप लगाया था.