सुशांत के पूर्व ड्राइवर के रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप- सिर को सुलाकर घर में भाई- बाप के साथ करती थी पार्टियां

सुशांत के पूर्व ड्राइवर के रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप-  सिर को सुलाकर घर में भाई- बाप के साथ करती थी पार्टियां

सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के मुद्दे में अदाकार के पूर्व ड्राइवर धीरेन ने रिया चक्रवर्ती पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनकी मानें तो अदाकारा ने सुशांत को पूरी तरह कंट्रोल में कर लिया था. धीरेन के मुताबिक, उनके कार्य छोड़ने के बाद कई लोगों ने उन्हें बताया था कि जब सुशांत बीमार पड़े, तब भी रिया खूब पार्टियां करती थीं. धीरेन ने यह खुलासा एक अंग्रेजी न्यूज चैनल से वार्ता में किया.

रिया ने सुशांत के स्टाफ को निकाला

टाइम्स नाउ से वार्ता में धीरेन ने बताया कि सुशांत की जिंदगी में आते ही रिया ने उनके स्टाफ को निकालना प्रारम्भ कर दिया था. ताकि उनकी स्थान अपने लोगों को कार्य पर रख सकें. इस दौरान उन्होंने सुशांत की बहन प्रियंका व रिया के बीच हुए झगड़े की बात भी कही. उन्होंने बताया कि एक बार वे रिया, उनके भाई शोविक व प्रियंका को एक क्लब में ले गए थे, जहां कोई पार्टी थी. वहां से लौटने के बाद आकस्मित प्रियंका अपने घर दिल्ली लौट गई थीं. धीरेन के मुताबिक, उन्हें लगता है कि उस रात रिया व प्रियंका के बीच कोई फाइट हुई थी.

गौरतलब है कि यह बात कुछ दिन पहले भी सामने आई थी कि रिया ने 2019 में प्रियंका पर उन्हें मोलेस्ट करने का आरोप लगाया था. इसके बाद सुशांत व प्रियंका का कहासुनी हुआ था व प्रियंका दिल्ली लौट गई थीं. दोनों के बीच कुछ महीने तक बात भी नहीं हुई थी. बाद में सुशांत ने प्रियंका से माफी मांगी. तब तक उन्हें अहसास हो गया था कि रिया ने भाई-बहन के बीच फूट डालने के इरादे से इतना गंभीर आरोप लगाया था.

ड्राइवर के साथ 15-16 घंटे रहते थे

एक अन्य रिपोर्ट में एक अन्य ड्राइवर अनिल से वार्ता का दावा किया गया है. अनिल ने बताया कि सुशांत उनके साथ 15-16 घंटे रहते थे. वे सुशांत को शूट पर लेकर जाते थे व अगर उन्हें किसी वस्तु की आवश्यकता होती थी तो वे वह भी उन तक पहुंचाते थे.

उनके मुताबिक, उन्होंने 2018 में सुशांत के साथ ढाई महीने कार्य किया था. इसके बाद उन्हें व बाकी स्टफ को आकस्मित जॉब से निकाल दिया गया था. वे आज तक इसके पीछे की वजह नहीं समझ पाए हैं. अनिल के मुताबिक, उन्हें तारीख तो अच्छा से याद नहीं. लेकिन यह सुशांत की फिल्म 'केदारनाथ' के रिलीज के आसपास की घटना है. तब सुशांत ने 'छिछोरे' की शूटिंग प्रारम्भ कर दी थी.

सुशांत को मृत्यु से भय लगता था

अनिल ने इस वार्ता में एक घटना का जिक्र किया व बताया कि सुशांत को मृत्यु से बहुत भय लगता था. उनके मुताबिक, एक बार जब वे सुशांत के साथ थे तो वहां से लौटने में कुछ देरी हो गई थी. अनिल उनका इन्तजार कर रहे थे व इस दौरान कार में उनकी नींद लग गई थी. जब सुशांत वहां आए तो उन्होंने उन्हें सोते हुए पाया.

अभिनेता ने पूछा- सो रहे हो क्या? इस पर अनिल ने न में जवाब दिया. फिर सुशांत ने उन्हें बोला कि वे कार न चलाएं व खुद ही अपनी कार ड्राइव कर घर लौटे थे, जबकि अनिल दूसरी कार से वापस आए. अनिल की मानें तो सुशांत को भय था कि उनकी नींद की वजह से कुछ अनहोनी हो न जाए. इसलिए उन्हें लगता है कि जो इंसान मृत्यु से इतना डरता है, वह सुसाइड नहीं कर सकता है.