उदय शंकर ने लिया वाल्ट डिज्नी छोड़ने का फैसला

उदय शंकर ने लिया वाल्ट डिज्नी छोड़ने का फैसला

एशिया में द वॉल्ट डिज्नी कंपनी के चेयरमैन उदय शंकर ने अपने पद को छोड़ने का निर्णय कर लिया है. इस पद पर वह 31 दिसंबर 2020 तक रहेंगे व इसके बाद एक उद्योगपति के रूप में वह अपने करियर को आगे बढ़ाएंगे. यह पद उन्हें पिछले वर्ष फरवरी में ही मिला था. इससे पहले वह एशिया में ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी फॉक्स के अध्यक्ष व स्टार इंडिया के सीईओ के पद पर कार्य कर रहे थे. 


साल 2007 में उन्हें स्टार इंडिया का पदभार सौंपा गया था. वहां उन्होंने न सिर्फ स्टार के व्यापार को बड़ा बनाया, बल्कि सारे एशिया में इस कंपनी को सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार कर दिया. उन्होंने स्टार की पहुंच गांव गांव तक बनाई. वह उदय का ही दिमाग था जब उन्होंने देश में होने वाले क्रिकेट के महासंग्राम भारतीय प्रीमियर लीग यानी आईपीएल को स्टार स्पोर्ट्स पर प्रारम्भ करवाया. इससे खेल के इन चैनलों की पहुंच देश के कोने कोने तक बनी. हॉटस्टार को डिज्नी प्लस हॉटस्टार बनाने का कारनामा भी उदय के रहते हुए ही हुआ है.

अपने इस बड़े निर्णय पर उदय कहते हैं, 'मैं हमेशा उच्च तकनीकी व रचनात्मकता की ताकत पर भरोसा करता हूं. इसी से एक बेहतर दुनिया बनता है. मैं अपने आप को बहुत खुशकिस्मत समझता हूं कि मुझे स्टार, ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी फॉक्स व द वॉल्ट डिजनी कंपनी का भाग बनने का मौका मिला. जब मैं अपनी ज़िंदगी यात्रा को पीछे मुड़कर देखता हूं तो मुझे अपने आप पर गर्व महसूस होता है. मैंने अपने सारे करियर में कई लक्ष्य प्राप्त किए. लेकिन अब कुछ समय के लिए मैं इन सब से बाहर आकर देखना चाहता हूं.' अपनी बात जारी रखते हुए उदय ने कहा, 'मैं देखना चाहता हूं कि इतना सब कुछ मिलने के बाद मैं देश, समाज व उद्योगों को वापस क्या दे सकता हूं. क्योंकि, मुझे भी यह सब इन्हीं चीजों से मिला है. मुझे लगता है कि इन सभी का आभार जाहीर करने का सबसे अच्छा उपाय यही होगा कि मैं नयी पीढ़ी के उद्यमियों का समर्थन करूं व उनका मार्गदर्शन करूं. क्योंकि, यही वह लोग हैं जो कुछ नयी चीजों पर कार्य करते हैं व इसका असर देश में अनगिनत चीजों पर पड़ता है. इसके लिए मैं विश्वभर के निवेशकों व कुछ कर दिखाने वाला जज्बा रखने वालों के साथ सहभागिता करूंगा.'

मीडिया इंडस्ट्री में उदय पिछले बहुत ज्यादा समय से जुड़े हुए हैं. आरंभ में उन्होंने स्टार न्यूज में संपादक व सीईओ का पदभार संभाला था. आगे चलकर यही चैनल देश का सबसे पहला 24 घंटे चलने वाला समाचारों का चैनल बना. उदय टीवी टुडे ग्रुप के संपादक व खबर निर्देशक भी बने. उन्होंने ही साल 2000 में हिंदी चैनल आज तक व साल 2003 में अंग्रेजी चैनल हैडलाइंस टुडे की लॉन्चिंग करवाई थी. वह भारतीय ब्रॉडकास्टिंग फेडरेशन के अध्यक्ष रह चुके हैं व इस समय उदय फेडरेशन ऑफ इंडिया चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री यानी फिक्की के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट भी हैं.