कोरोना वायरस के विरूद्ध जंग के लिए आगे आए भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारी, 100 करोड़ रुपये का किया आर्थिक सहयोग

कोरोना वायरस के विरूद्ध जंग के लिए आगे आए भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारी, 100 करोड़ रुपये का किया आर्थिक सहयोग

देश इस समय कठिन दौर से गुजर रहा है. कोरोना वायरस महामारी ने हिंदुस्तान में अब तक 32 लोगों की जान ले ली है. वहीं, इस वायरस से अब तक 1250 से भी ज्यादा लोग प्रभावित हो चुके हैं. खतरे को देखते हुए हिंदुस्तान सरकार ने 21 दिनों का लॉकडाउन कर रखा है. इससे हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है, लेकिन पीएम की अपील के बाद अब कंपनियां व लोग मदद के लिए सामने आ रहे हैं. कठिन की इस घड़ी में अब भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारी भी देश के साथ खड़े हो गए हैं.  

दरअसल कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारियों ने पीएम राहत कोष में 100 करोड़ रुपये का आर्थिक सहयोग दिया है. देश की सबसे बड़ी ऋणदाता ने एक बयान में बोला कि उसके लगभग 2,56,000 कर्मचारी अपने दो दिनों के वेतन को 'पीएम केयर्स' फंड में दान करेंगे.

बैंक की तरफ से बोला गया है कि भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारियों के इस सामूहिक कोशिश व प्रतिबद्धता के कारण पीएम राहत कोष में 100 करोड़ रुपये का सहयोग किया जाएगा.

इस सारे मुद्दे पर भारतीय स्टेट बैंक के रजनीश कुमार ने कहा, "भारतीय स्टेट बैंक के लिए यह गर्व की बात है कि हमारे सभी कर्मचारी अपनी ख़्वाहिश से दो दिन के वेतन को पीएम CARES फंड में दान करेंगे. इस महामारी के विरूद्ध भारतीय स्टेट बैंक सरकार के साथ खड़ी है व हर चुनौतियों का सामना करने के लिए अपना समर्थन आगे भी जारी रखेगी."

बैंक की तरफ से आगे बोला गया है कि संकट की इस घड़ी में भारतीय स्टेट बैंक अपने ग्राहकों को सबसे बेहतर बैंकिंग सेवाएं देने के लिए प्रतिबद्ध है. बता दें कि Covid-19 से मुकाबले के लिए पिछले सप्ताह भारतीय स्टेट बैंक ने 2019-20 का सालाना प्रॉफिट का 0.25 फीसदी अपनी सीएसआर गतिविधियों के हिस्से में दिया है.