मुश्किल रास्तों पर भी बेहद असरदार होगी 'टाटा पंच', नए टीज़र से हुआ खुलासा

मुश्किल रास्तों पर भी बेहद असरदार होगी 'टाटा पंच', नए टीज़र से हुआ खुलासा

टाटा पंच माइक्रो एसयूवी के जल्द ही भारतीय सड़कों पर उतरने की उम्मीद है। लॉन्च से पहले, टाटा मोटर्स पंच की विशेषताओं और क्षमताओं को आक्रामक रूप से प्रमोशन कर रही है, जो मारुति सुजुकी इग्निस को टक्कर देने वाली माइक्रो एसयूवी सेगमेंट में कार निर्माता का पहला उद्यम होगी। कंपनी द्वारा जारी किये गए एसयूवी के नए टीज़र वीडियो में, टाटा मोटर्स ने दिखाया है कि कैसे पंच खराब सड़कों से आसानी से निपटने में सक्षम कार है।


नई पंच एसयूी को टाटा मोटर्स के ALFA-ARC (एजाइल लाइट फ्लेक्सिबल एडवांस्ड आर्किटेक्चर) पर आधारित है, जिसे इम्पैक्ट 2.0 डिजाइन लैंग्वेज के तहत विकसित किया गया है। जहां तक ​​लुक्स का सवाल है, इसमें एलईडी डीआरएल यूनिट्स के साथ एसयूवी, हेडलाइट्स, चौड़े बोनट डिजाइन और एक स्पष्ट ग्रिल के साथ एक उच्च रुख मिलता है। चंकी स्किड प्लेट्स में पीछे की तरफ बड़ी ब्लैक क्लैडिंग और एरो-शेप्ड रैप-अराउंड टेललाइट्स हैं। अलॉय व्हील्स का डिज़ाइन भी बड़े व्हील आर्च के साथ आकर्षक लगता है, जो बाहर से बोल्ड लुक को पूरा करता है।


टाटा मोटर्स पहले ही पंच माइक्रो एसयूवी के बारे में कई अन्य डिटेल्स की पुष्टि कर चुकी है। कंपनी का दावा है कि पंच 'सेफ्टी फीचर्स इन अ बंच' के साथ भारतीय सड़कों पर उतरने वाली सबसे सुरक्षित कारों में से एक होगी। इसमें ड्यूल फ्रंट एयरबैग, एबीएस के साथ ईबीडी जैसे सेफ्टी फीचर्स शामिल होने की संभावना है।

टाटा मोटर्स अपनी इस माइक्रो एसयूवी 'पंच' को कई प्रकार की सड़क स्थितियों से निपटने में अधिक सक्षम बनाने के लिए तैयार कर रहा है। इसमें अलग-अलग रोड कंडीशन के हिसाब से ड्राइविंग मोड्स दिये जा सकते हैं। जारी किये गए टीज़र वीडियो में पंच खराब सड़कों पर आसानी से भागते नजर आ रही है। टाटा पंच माइक्रो एसयूवी के आगामी त्योहारी सीजन के आसपास लॉन्च होने की उम्मीद है। कंपनी इस 5-सीटर एसयूवी को 1.2लीटर पेट्रोल इंजन पेश कर सकती है। यह एक टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल यूनिट भी हो सकती है। इंजन को 5-स्पीड मैनुअल या ऑटोमेटिक गियरबॉक्स के साथ जोड़े जाने की संभावना है। इंजन 86 पीएस का अधिकतम आउटपुट और 113 एनएम का पीक टॉर्क पैदा करने में सक्षम है। 


बेटियों के बहतर भविष्य के लिए करें इस योजना में निवेश, पाएं बेहतर ब्याज दर और टैक्स में छूट का लाभ

बेटियों के बहतर भविष्य के लिए करें इस योजना में निवेश, पाएं बेहतर ब्याज दर और टैक्स में छूट का लाभ

छोटी बचत योजनओं के तहत निवेश करने वालों के लिए इंडिया पोस्ट अपनी तरफ से नौ छोटी बचत योजनाओं की पेशकश करता है। डाकघर की इन स्मॉल सेविंग स्कीम में से एक स्कीम सुकन्या समृद्धि योजना भी है। डाकघर की इन स्कीम में, आप बेहद ही कम रकम से अपना डिपॉजिट शुरू कर सकते हैं। इसके साथ आपको अपने जमा पर बेहतर ब्याज दर के साथ सरकारी सुरक्षा भी हासिल होती है। इसके अलावा आपको टैक्स बेनिफिट भी मिलता है। डाकघर की सुकन्या समृद्धि योजना खास तौर पर 'बेटियों' के लिए बनाई गई है।

आप एक पिता के तौर पर भी आप अपनी बेटी को उसके बेहतर भविष्य के लिए सुकन्या समृद्धि योजना का तोहफा दे सकते हैं। बेटियों के उज्ज्वल भविष्य को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सरकार के द्वारा साल 2014 में इस योजना की शुरुआत की गई थी। आइये जानते हैं डाकघर की इस स्कीम के बारे में।

क्या है निवेश की रकम

डाकघर की सुकन्या समृद्धि योजना के तहत कोई भी व्यक्ति न्यूनतम 250 रुपये सालाना से निवेश शुरू कर सकता है। इस योजना में निवेश करने की अधिकतम रकम 1.5 लाख रुपये सालाना है। यदि आप अपनी बेटी के कम उम्र में ही इस योजना के तहत निवेश शुरू करते हैं तो आप इसमें 15 वर्षों तक निवेश कर सकते हैं।

कौन खोल सकता है खाता

इसके तहत 10 साल से कम उम्र की बालिका के नाम पर उसके अभिभावक की तरफ से खाता खोला जा सकता है। भारत में डाकघर या किसी भी बैंक में बालिकाओं के नाम पर केवल एक खाता खोला जा सकता है।


क्या है ब्याज दर

डाकघर की सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आपको 7.6 फीसद सालाना ब्याज का लाभ हासिल होता है। ब्याज प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में जमा किया जाएगा। इस योजना के तहत हासिल ब्याज आयकर अधिनियम के तहत कर मुक्त है।