पटना एयरपोर्ट पर टला हादसा, धुंध के कारण आगे निकल गया था विमान, झटके से सहम गए यात्री

पटना एयरपोर्ट पर टला हादसा, धुंध के कारण आगे निकल गया था विमान, झटके से सहम गए यात्री

जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर रविवार की शाम को अजीबोगरीब स्थिति देखने को मिली। बेंगलुरु से आई स्पाइसजेट की फ्लाइट धुंध के कारण हार्ड लैंडिंग हो गई। इसके कारण फ्लाइट को कंट्रोल करने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाना पड़ा, जिससे यात्रियों में काफी घबराहट होने लगी थी। हालांकि पायलट की कुशलता से कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। जानकारी के मुताबिक हार्ड लैंडिंग के कारण रविवार को स्पाइसजेट की बेंगलुरू वाली फ्लाइट सवा घंटा देर से उड़ी। फ्लाइट शाम छह बजे में पटना एयरपोर्ट पर समय से लैंड हुई थी। लैंड‍िंग के समय धुंध की वजह से पायलट को रनवे पर जहां विमान उतरना चाहिए था, उससे थोड़ा आगे उतरा।

छोटे रनवे के कारण सामान्‍य लैंडिंग में भी दिक्‍कत

मालूम हो कि पटना एयरपोर्ट का रनवे छोटा है जहां विमान दौड़ाने की अधिक गुंजाइश नहीं है और सामान्य लैंडिंग में भी ब्रेक का इस्तेमाल करना पड़ता है। ऐसे में थोड़ा दूर लैंड करने के कारण विमान को और भी तेज इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल करना पड़ा। इसके कारण लैंडिंग के बाद विमान को खड़ा कर उसके ब्रेक समेत कई पार्ट पुर्जों की चेक‍िंग की गई। उसमें सब कुछ ठीक मिलने के बाद विमान में यात्रियों को बिठाना शुरू किया गया और रात आठ बजे तय समय 6.45 बजे से सवा घंटा देरी से विमान वापस बेंगलुरू रवाना हुई।

कोहरा शुरू होते ही  कमी ट्रेनों की रफ्तार

कोहरा शुरू होते ही उत्तर भारत से गुजरने वाली ट्रेनों की रफ्तार पर ब्रेक लगने लगा है। हालांकि अभी ज्यादातर प्रमुख ट्रेनें सही समय पर चल रही हैं। अधिक कोहरा होने के बाद इनकी रफ्तार भी डगमगाने लगेंगी। नई दिल्ली से आने वाली पूजा स्पेशल 01664 आनंदविहार पटना एक्सप्रेस रविवार को ढाई घंटे विलंब से पहुंची। देहरादून से हावड़ा जाने वाली 02328 उपासना एक्सप्रेस तीन घंटे विलंब से पटना जंक्शन पहुंची। इसी तरह अमृतसर से हावड़ा जाने वाली 13006 पंजाब मेल भी दो घंटे, भागलपुर से नई दिल्ली जाने वाली गरीब रथ छह घंटे विलंब से दिल्ली पहुंची है।


नालंदा में सड़क दुर्घटना में वार्ड सदस्य और उसके साथी की मौत, पूर्व मुखिया पर परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

नालंदा में सड़क दुर्घटना में वार्ड सदस्य और उसके साथी की मौत, पूर्व मुखिया पर  परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

बिहार के नालंदा (Nalanda Bihar) के नूरसराय थाना इलाके के बिहारी मकनपुर छिलका के समीप बुधवार की देर शाम सड़क हादसे में जख्मी वार्ड सदस्य की मौत इलाज के दौरान हो गई. मृतक जगदीशपुर तियारी गांव निवासी राजेंद्र प्रसाद का 48 वर्षीय पुत्र रंजीत कुमार हैं. वार्ड सदस्य की मौत के बाद परिजन इसे चुनावी रंजिश में हत्या बता रहे हैं.

परिजनों के हत्या की आरोप के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है. मृतक के भाई ने आरोप लगया है कि उनके भाई को जानबूझकर ट्रक से टक्कर मारकर हत्या कर दी गई. दुर्घटना बुधवार को हुआ था. जब वार्ड सदस्य रंजीत कुमार उदय कुमार के साथ कहीं से आ रहे थे. इसी दौरान पीछे से आ रही एक ट्रक ने उनकी मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी थी. जिसके बाद उदय कुमार की मौत हो गई थी. वहीं रंजीत कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए थे. इसके बाद अस्पताल में उनका इलाज कराया जा रहा था. जहां गुरुवार की रात उनकी मौत हो गई.

पूर्व मुखिया पर आरोप

मृतक के भाई ने इस मामले में बताया कि पंचायत चुनाव में उसका भाई रंजीत वार्ड सदस्य चुना गया. इस चुनाव में घर के दूसरे सदस्य भी चुनाव लड़ रहे थे. इधर पूर्व मुखिया चुनाव में अपने हार का कारण रंजीत और परिवार के सदस्य को बता रहा था. इसी चुनावी रंजिश में जानबूझकर सड़क हादसा का रूप देकर उनके भाई की हत्या करवा दी गई.

“ट्रक से टक्कर मारकर हत्या”

मृतक के भाई का आरोप है कि जब रंजीत अपने एक और साथी के साथ बाइक से लौट रहा था तो उस वक्त ट्रक सड़क किनारे खड़ी थी. जैसे ही वह आगे बढ़ा कि पीछे से आकर ट्रक ने बाइक में जबरदस्त टक्कर मार दी. जिससे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. मामले में नूरसराय पुलिस अस्पताल पहुंचकर शव का पोस्टमार्टम करवाने की प्रक्रिया में जुट गई है.

मामले की जांच कर रही है पुलिस

इधर हत्या के लग रहे आरोपों पर थाना अध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है. जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि यह सड़क हादसा है या साजिश के तहत हत्या कराई गई है. गांव में दो दिनों के भीतर दो लोगों की मौत से कोहराम मत गया है.मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.